Tez Khabar. Khas Khabar

News Aaj Photo Gallery
NSE 9710
BSE 31213
hii
Gold 29189
Silver 39017
Home | खेल | अन्य खेल

देविंदर सिंह कांग ने रचा इतिहास, जैवलिन थ्रो के फाइनल में बनाई जगह

नई दिल्ली 11 अगस्त: लंदन में चल रही वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जैवलिन थ्रो (भाला फेंक) के फाइनल में भारत के देविंदर सिंह कांग ने इतिहास रच दिया है. देविंदर ने फाइनल में जगह बनाकर देश का गौरव बढ़ाया है. इसके साथ ही देविंदर वर्ल्ड चैंपियनशिप में जैवलिन थ्रो के फाइनल के लिए क्वॉलिफाई करने वाले पहले भारतीय बन गए हैं. इसके साथ ही भारत के स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा क्वॉलिफिकेशन राउंड में ही बाहर हो गए हैं. गुरुवार को ग्रुप बी क्वॉलिफिकेशन राउंड में भाग लेते हुए कांग ने कंधे के चोट के बावजूद 83 मीटर के क्वॉलिफिकेश मार्क की दूरी तक भाला फेंकते हुए फाइनल के लिए क्वॉलिफाई किया. पहले और दूसरे राउंड में कांग क्रमशः 82.22 मीटर और 82.14 मीटर की दूरी तक ही भाला फेंक पाए. ऐसे में तीसरे राउंड में कांग पर 83 मीटर की दूरी को छूने का भारी दबाव था लेकिन कांग ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए तीसरे राउंड में 84.22 मीटर की दूरी तक भाला फेंकते हुए फाइनल के लिए क्वॉलिफाई कर लिया. पंजाब के इस 26 वर्षीय एथलीट को तीसरे और आखिरी राउंड में 83 मीटर की दूरी तक भाला फेंकना था और संयोग से भाला फेंकने में प्रतियोगियों में उनका नंबर सबसे आखिर में था लेकिन उन्होंने सारे दबाव को धता बताते हुए फाइनल के लिए क्वॉलिफाई कर लिया है. ग्रुप ए से 5 और ग्रुप बी से 8 थ्रोअर्स ने 83 मीटर की दूरी तय करते हुए फाइनल के लिए क्वॉलिफाई किया है, ये सभी 12अगस्त को फाइनल मुकाबले में उतरेंगे. कांग ने 84.22 मीटर की दूरी तक भाला फेंकते हुए फाइनल राउंड के क्वॉलिफायर्स के बीच सातवां स्थान हासिल किया. उनकी ये सफलता इसलिए और भी महत्वपूर्ण हो जाती है, क्योंकि इस साल मई में हुई इंडियन ग्रैंड प्रिक्स से ही उन्हें कंधे में चोट लगी है. देविंदर सिंह कांग से पहले आज तक किसी भी भारतीय ने किसी भी वर्ल्ड चैंपियनशिप के जैवलिन थ्रो के फाइनल में जगह नहीं बनाई है.



यह लेख आपको कैसा लगा
   
नाम:
इ मेल :
टिप्पणी
 
Not readable? Change text.

 
 

सम्बंधित खबरें

 
News Aaj Photo Gallery
 
© Copyright News Aaj 2010. All rights reserved.