Tez Khabar. Khas Khabar

News Aaj Photo Gallery
NSE 10478
BSE 33848
hii
Gold 30225
Silver 39700
Home | झलकियाँ

Fodder Scam: दिलचस्प हैं लालू और CBI जज के किस्से

रांची: बहुचर्चित चारा घोटाले में सीबीआई की विशेष अदालत फैसला सुनाएगी। इस विशेष अदालत के जज हैं शिवपाल सिंह। अब तक की सुनवाइयों में दोनों के कई दिलचस्प किस्से सामने आए हैं। आप भी पढ़ें - लालू यादव का आरोप है कि जज शिवपाल सिंह इस केस से जुड़े लोगों के साथ अच्छा बर्ताव नहीं करते हैं। यही कारण है कि उन्होंने केस के ट्रांसफर करने के लिए याचिका लगाई थी। लालू का आरोप था कि तीन अगस्त 2017 को पटना के डीजी रैंक के अधिकारी सुनील कुमार गवाही देने पहुंचे थे। जज साहब ने उनका नाम और पता पूछा। इसके बाद उन्होंने गवाह से जाति पूछी। जाति पूछने के बाद जज ने कहा कि उन्हें 10 अगस्त को समन किया गया था, वह आज कैसे आ गए? इसके बाद उन्होंने जिस कागज पर नाम-पता नोट किया था उसे फाड़ दिया। लालू ने अपनी याचिका में कहा था कि उनकी ओपेन हार्ट सर्जरी हुई है। वह नियमित अंतराल पर दवा लेते हैं। इसके लिए उनके साथ एक अटेंडेंट हमेशा रहता है। एक सुनवाई के लिए लालू के अटेंडेंट को भी कोर्ट से बाहर कर दिया गया था। ...तब हुआ था आमना-सामना 30 जून 2017 को हुई सुनवाई में भी दोनों को दिलचस्प अंदाज में आमना-सामना हुआ था। लालू ने कोर्ट में हाथ जोड़कर आग्रह किया था कि जिद नहीं कर रहे हैं हुजूर, आग्रह कर रहे हैं। डे टू डे आने में परेशानी होती है। पॉलिटिकल आदमी हैं। उपस्थिति से छूट दी जाए। वैसे हुजूर को जब हमारी जरूरत होगी। हम आएंगे। हमारे वकील यहां रहेंगे ही। सामने राष्ट्रपति का चुनाव हैं, मुझे रैली भी करनी है। लालू की यह बात सुनकर जज शिवपाल सिंह ने कहा, इंटरनेट का जमाना है आपको कुछ नहीं, कार्यकर्ताओं को सब कुछ करना है। हम जानबूझकर नहीं बुला रहे। नौ माह के भीतर मामले को खत्म करना है, इसलिए के दौरान शामिल होना होगा। जज साहब ने हाल पूछा तो दिया यूं जवाब इससे पहले 14 जून 2016 को भी लालू और जज साहब का आमना-सामना हुआ था। तब जज साहब ने लालू की ओर मुस्कुराते हुए पूछा था, कैसे हैं? इस पर लालू ने अपने अंदाज में जवाब दिया था कि ठीके हैं सर। आपने बुलाया और हम आ गए।



यह लेख आपको कैसा लगा
   
नाम:
इ मेल :
टिप्पणी
 
Not readable? Change text.

 
 

सम्बंधित खबरें

 
News Aaj Photo Gallery
 
© Copyright News Aaj 2010. All rights reserved.