Tez Khabar. Khas Khabar

News Aaj Photo Gallery
NSE 10093
BSE 32158
hii
Gold 29847
Silver 41027
Home | ख़ास खबर

हवा से आर्टिफिशियल फूड बनेगा, वैज्ञानिकों ने खोजी नायाब तरकीब

News Aaj Photo Gallery

लंदन: अभी तक आपने कई तरह के खाने का लुत्फ ले लिया होगा। मगर, हवा से बने खाने के बारे में शायद ही किसी ने कल्पना की होगी। हवा में मौजूद कार्बन डाई ऑक्साइड और हाई वोल्टेज से भविष्य का खाना बनेगा। फिनलैंड में वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि उन्होंने हवा से खाना बनाने का नया तरीका खोज लिया है। शोधकर्ताओं ने बिजली, कार्बन डाई ऑक्साइड और कुछ माइक्रोब्स का इस्तेमाल कर हवा से खाना बनाया है। इन चीजों को कॉफी कप के आकार के बायोरिएक्टर में मिक्स करने के बाद बिजली का झटका दिया जाता है। इससे एक पाउडर बनता है, जिसमें 50 फीसद प्रोटीन, 25 फीसद कार्बोहाइड्रेट और बाकी में फैट, न्यूक्लिक एसिड, क्वार्ट्स होता है। हालांकि, यह अभी इंसानों के खाने के लिए तैयार नहीं है, लेकिन इसे पशुओं के चारे के विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। ऐसा होने पर खाने के लिए फसलों पर पड़ने वाले दबाव को कम किया जा सकेगा। इससे मीट को सस्ता करने में भी मदद मिलेगी, क्योंकि दुनियाभर में फसलों पर दबाव बढ़ता जा रहा है। शोधकर्ताओं ने कहा कि 'फूड फ्रॉम इलेक्ट्रिसिटी प्रोग्राम' पौधों के प्रकाश संश्लेषण की तुलना में 10 गुना अधिक एनर्जी एफिशिएंट है। इस प्रारंभिक चरण के शोध से बड़े पैमाने पर जमीन के उपयोग के बिना भूखी आबादी को सस्ते में भोजन उपलब्ध कराने की दिशा में हल मिल गया है। संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि दुनिया में लगभग 79.5 करोड़ लोगों को गंभीर कुपोषण से पीड़ित हैं। वीटाटी के प्रमुख वैज्ञानिक जूहा-पेका पिटकानेन ने कहा कि सभी तरह का कच्चा माल हवा में मौजूद है। भविष्य में प्रौद्योगिकी को ट्रांसपोर्ट किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, रेगिस्तान और अन्य इलाकों में अकाल का पड़ता है। इसका एक संभावित विकल्प होम रिएक्टर हो सकता है। यह घरेलू उपकरण का एक प्रकार है, जो उपभोक्ता के लिए जरूरी प्रोटीन तैयार करने में उपयोगी हो सकता है।



यह लेख आपको कैसा लगा
   
नाम:
इ मेल :
टिप्पणी
 
Not readable? Change text.

 
 

सम्बंधित खबरें

 
News Aaj Photo Gallery
 
© Copyright News Aaj 2010. All rights reserved.