Tez Khabar. Khas Khabar

News Aaj Photo Gallery
NSE 10321.75
BSE 33314.56
hii
Gold 29471
Silver 39520
Home | Youth & Career

अब एनटीए कराएगी डॉक्टरी, इंजीनियरिंग और नेट की परीक्षा: कैबिनेट

नई दिल्ली: डाक्टरी, इंजीनियरिंग व नेट सहित उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश से जुड़ी सभी तरह की परीक्षाएं अब एनटीए (नेशनल टेस्टिंग एजेंसी) कराएगा। केंद्र सरकार ने उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश की प्रक्रिया को सरल और पारदर्शी बनाने के लिए एजेंसी के गठन को मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही एजेंसी के गठन के लिए एकमुश्त 25 करोड़ की राशि भी जारी कर दी है। देश में अभी तक डाक्टरी, इंजीनियरिंग आदि में प्रवेश से जुड़ी परीक्षाएं सीबीएसई और एआईसीटीई जैसी एजेंसियों के जिम्मे था, लेकिन पिछले कुछ सालों से इन परीक्षाओं को लेकर बढते विवाद को देखते हुए यह बदलाव किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में शुक्रवार को आयोजित कैबिनेट बैठक में मानव संसाधन विकास मंत्रालय से जुड़े इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। केंद्र सरकार ने वर्ष 2017-18 के बजट में उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए एनटीए के गठन की घोषणा की थी, इसे अब मंजूरी दी गई है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधीन यह एक स्वायत्त एजेंसी होगी, जो अपनी खुद की आय से संचालित होगी। यह राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षाओं के साथ राज्यों या किसी निजी संस्थान की मांग पर उनके लिए भी परीक्षाएं आयोजित कराएगा। यह सभी परीक्षाएं ऑन लाइन ही आयोजित करेगा, इसके तहत वह छात्रों को साल में दो बार प्रवेश परीक्षा में शामिल होने का मौका देगा। एजेंसी का इसके पीछे मकसद आवेदकों को बेस्ट परफार्म करने का मौका देना है। मंत्रालय की मानें तो मौजूदा समय में डाक्टरी, इंजीनियरिंग और नेट की परीक्षाएं कराने का जिम्मा सीबीएसई, एआईसीटीई और यूजीसी जैसी संस्थानों के जिम्मे है, जबकि इनका मूल काम ऐसी परीक्षाओं को आयोजित कराना नहीं है। एनटीए का ऐसा होगा स्वरुप एनटीए का मुखिया कोई प्रतिष्ठित शिक्षाविद होगा, जिसकी नियुक्ति मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा की जाएगी। इसके साथ ही एजेंसी का एक सीईओ भी होगा, जो डायेक्टर जनरल (डीजी) स्तर का होगा। इसकी नियुक्ति भी सरकार करेगी। इसका एक बोर्ड ऑफ गवर्नेस भी होगा, जिसमें अलग संस्थानों के नामित सदस्य शामिल होंगे। एनटीए में अलग विधाओं के 9 विशेषज्ञ भी होंगे। इसकी नियुक्ति सीईओ करेगा।



यह लेख आपको कैसा लगा
   
नाम:
इ मेल :
टिप्पणी
 
Not readable? Change text.

 
 

सम्बंधित खबरें

 
News Aaj Photo Gallery
 
© Copyright News Aaj 2010. All rights reserved.