Tez Khabar. Khas Khabar

News Aaj Photo Gallery
NSE 10478
BSE 33848
hii
Gold 30225
Silver 39700
Home | यह है इंडिया

हैवानियत: बेरहमी से कत्ल के बाद 4 घंटे तक बेटी की लाश को काटती रही मां

सौतेली बेटी का कत्ल करने वाली मां मीनू कौर के दिल में इतनी नफरत थी, हत्या के बाद भी वह शांत नहीं हुई। बेरहम तरीके से हत्या के बाद मां ने लाश के कमर से दो टुकड़े कर डाले। चार घंटे तक वह लाश को काटती रही। देहरादून के अंसारी रोड (पलटन बाजार) पर सामने आए दिल-दहलाने वाले हत्याकांड में सौतेली मां का वह चेहरा सामने आया है, जो आमतौर पर हॉरर कहानियों में पढ़ने को मिलता है। इस सनसनीखेज हत्याकांड में नया खुलासा हुआ है। जिस युवती की हत्या हुई वह एयर हॉस्टेस का कोर्स कर रही थी। सौतेली मां ने सो रही बेटी प्राप्ति के सिर पर ईंट से हमला कर उसकी हत्या की। पत्थर दिल बनी सौतेली मां का कलेजा इतने से नहीं भरा और उसने फिर खुखरी से बेटी के शव के दो टुकड़े कर दिए। ताकि वह शव को ठिकाने लगा पाए। शव के टुकड़े करने में उसे चार घंटे का वक्त लगा, लेकिन शव को घर से बाहर ले जाने का साहस नहीं जुटा पाई। कमर से काटकर किए लाश के दो टुकड़े सात फरवरी की रात को झगड़े के बाद प्राप्ति बगैर खाना खाए सो गई। मां का गुस्सा बेटी के इस तरह सोने के बाद भी शांत नहीं हुआ। उसने रात एक बजे सोई बेटी के सिर पर ईंट से कई वार किए। इसके बाद शव को उठाकर बाथरूम में डाल दिया। फिर रात में ही खुखरी से शव को काटने लगी और उसने चार घंटे में कमर से शव के दो टुकड़े कर दिए। इसके बाद वह शव को ठिकाने लगाने की योजना बनाने लगी, लेकिन जब उसे लगा कि वह शव को अकेले ठिकाने नहीं लगा पाएगी तो उसने नई योजना बनाई और बेटी की गुमशुदगी दर्ज करा दी। ताकि परिजनों के साथ ही आस पड़ोस को किसी तरह का कोई शक न हो। लाश घर में छिपाकर तलाशी का दिखावा करती रही सौतेली मां मोनू कौर पटेलनगर थाने तक अकेले ही बेटी की गुमशुदगी दर्ज कराने गई। इसके बाद वह नाते-रिश्तेदारों के साथ ही बेटी की तलाश में जुटी रही। वह डालनवाला स्थित एयर हॉस्टेस के इंस्टीट्यूट भी पहुंची और बेटी के बारे में जानकारी ली। साथ ही वह प्राप्ति के दोस्त वरुण को लेकर भी रेलवे स्टेशन से लेकर आईएसबीटी और दूसरी जगह प्राप्ति को तलाशने गई। प्राप्ति के मर्डर के बाद मीनू ने बेटी का मोबाइल स्विच ऑफ कर दिया। गुमशुगदी की सूचना के बाद परिजन लगातार प्राप्ति के मोबाइल पर संपर्क कर रहे थे, लेकिन मोबाइल स्विच ऑफ चल रहा था। आपस में भिड़ गए परिजन प्राप्ति सिंह की हत्या के बाद उसके ननिहाल से भी रिश्तेदार अंसारी मार्ग स्थित घर पहुंच गए। उनके साथ मीनू कौर और उनके रिश्तेदारों की आपस में भिड़ंत भी हुई। मौके पर पुलिस फोर्स ने दोनों पक्षों को अलग-अलग किया। यहां प्राप्ति के ननिहाल के रिश्तेदार लगातार आरोप लगा थे कि मीनू ने प्रापर्टी को लेकर हत्या की है। सौतेली मां बोली-कत्ल करने का नहीं है कोई अफसोस पुलिस की पूछताछ में मीनू कौर ने कहा कि उसे बेटी के कत्ल का कोई अफसोस नहीं है। उसने बार-बार यही बयान दिया कि पहले इसके पिता ने परेशान किया और अब बेटी परेशान कर रही। इस हत्याकांड के खुलासे के बाद पुलिस ने मौके से ही मीनू कौर को हिरासत में ले लिया था। मौके पर हुई पूछताछ में ही मीनू ने हत्या की बात कबूल ली थी, हालांकि मौके के साक्ष्यों को देखते हुए पुलिस सभी पहलुओं की जांच कर रही है। इसके लिए घर के पास लगे सीसीटीवी फुटेज को भी कब्जे में लिया गया है। साथ ही घटना  वाली रात क्या मीनू के साथ कोई और भी इसमें शामिल रहा है। इधर, एसएसपी निवेदिता कुकरेती का कहना है कि आरोपी मीनू कौर पूछताछ में एक ही बात को दोहरा रही है कि उसे अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है। मीनू ने पुलिस को बताया कि जिंदगी में उसे कभी सुख नहीं मिला। पहले प्राप्ति को लेकर पति के ताने सुने और तब भी घर में झगड़े होते थे, पति की मौत के बाद प्राप्ति का रवैया भी ठीक नहीं रहता था। हर समय उसने परेशान ही किया, ऐसे में जो हुआ उसे उसका कोई अफसोस नहीं था।



यह लेख आपको कैसा लगा
   
नाम:
इ मेल :
टिप्पणी
 
Not readable? Change text.

 
 

सम्बंधित खबरें

 
News Aaj Photo Gallery
 
© Copyright News Aaj 2010. All rights reserved.